महाराष्ट्र और उप्र के अपने सहयोगी दलों के साथ सीट बंटवारे पर कांग्रेस ने की चर्चा

0
27

नई दिल्ली। कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर महाराष्ट्र के अपने प्रमुख सहयोगी दलों शिवसेना (यूबीटी) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी तथा उत्तर प्रदेश की मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी के साथ शुरुआती दौर की बातचीत की। सीट बंटवारे के संदर्भ में यह बातचीत कांग्रेस के राष्ट्रीय गठबंधन समिति के संयोजक मुकुल वासनिक के आवास पर हुई। लोकसभा चुनाव के नजरिए से दो सबसे महत्वपूर्ण राज्यों महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश को लेकर हुई इस मंत्रणा के दौरान राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद भी मौजूद थे। वासनिक के आवास पर शाम को पहले महाराष्ट्र और फिर उत्तर प्रदेश के लिए सीट बंटवारे पर बातचीत हुई। विचार-विमर्श के दौरान महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और बालासाहेब थोराट सहित अन्य नेता मौजूद थे। इस बैठक में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता जितेंद्र अव्हाण और शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत तथा विनायक राउत भी मौजूद थे।

राकांपा नेता आव्हाण ने बाद में कहा कि यह निर्णय लिया गया है कि प्रकाश आंबेडकर नेतृत्व वाले वंचित बहुजन अघाड़ी भी राज्य में विपक्षी गठबंधन का हिस्सा होगी और पार्टी को सीट बंटवारे में हिस्सा मिल सकता है। उन्होंने कहा, बातचीत रचनात्मक रही। वे उम्मीद से ज्यादा सफल रहीं। हर सीट पर चर्चा हुई। उनका कहना था, यह सच है कि शिवसेना अधिक सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है और इस पर शरद पवार और उद्धव ठाकरे के बीच बातचीत हो रही है। वंचित बहुजन अगाड़ी प्रकाश अंबेडकर के नेतृत्व वाला एक संगठन है। प्रकाश अंबेडकर की विदर्भ क्षेत्र में पकड़ मानी जाती है और वह महाराष्ट्र में विदर्भ के अकोला क्षेत्र में सीटें मांग सकते हैं। वह अकोला सीट से तीन बार सांसद भी रह चुके हैं।

महाराष्ट्र में 48 लोकसभा सीटें हैं और कांग्रेस 26 सीटों की मांग कर रही है, जबकि शिवसेना 23 सीटों की मांग कर रही है, जबकि राकांपा ने यह खुलासा नहीं किया है कि वह कितनी सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है। सूत्रों ने बताया कि सीट बंटवारे पर बातचीत फिर से तीनों दलों के शीर्ष नेताओं के बीच होगी। शरद पवार और उद्धव ठाकरे जल्द ही सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश के लिए कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के नेताओं के बीच भी अलग से बातचीत हुई। कांग्रेस नेताओं के साथ हुई इस बैठक में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठता रामगोपाल यादव और जावेद अली खान मौजूद थे। यादव ने कहा, हम 12 जनवरी को सीट-बंटवारे पर आगे की चर्चा करेंगे और बातचीत तय होने के तुरंत बाद हम आपको विवरण बताएंगे।

गठबंधन में बहुजन समाज पार्टी को शामिल करने की बात पर उन्होंने कहा, हमें बसपा के साथ चर्चा क्यों करनी चाहिए। खान ने कहा कि गठबंधन के लिए कुछ मुद्दों पर चर्चा हुई और 12 जनवरी को हमारी बातचीत का एक और दौर होगा और फिर विवरण साझा किया जाएगा। कांग्रेस विपक्षी गठबंधन इंडिया के घटक दलों के साथ राज्यवार बातचीत कर रही है। हाल में उसने आम आदमी पार्टी नेताओं के साथ भी बातचीत की थी। सीट बंटवारे को लेकर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच अगले दौर की बातचीत जल्द हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here