Delhi MCD Election 2022: पार्षदों ने चुनाव के लिए मांगा छह महीने का समय, तीनों निगमों के एकीकरण का भी उठा मुद्दा

0
142

MCD Chunav 2022: अप्रैल में होने वाले दिल्ली एमसीडी चुनाव को छह महीने के बाद कराए जाने की मांग उठाई गई। साथ ही उत्तरी दिल्ली नगर निगम स्थायी समिति की बैठक में तीनों निगमों का एकीकरण करने का मुद्दा उठाया गया। इस मुद्दे पर स्थायी समिति के चेयरमैन सहित सत्ता पक्ष के सभी पार्षदों ने अपनी सहमति जताई और कहा कि चुनाव के लिए कम से कम छह माह का समय मिलना चाहिए। इसके अलावा केशवपुरम के पार्क में एक किशोर का शव पेड़ से लटके पाए जाने का मुद्दा भी गरमाया रहा। सत्ता पक्ष के पार्षदों ने जिस पार्क से किशोर का शव मिला उसके ठीक सामने शराब का ठेका है और पार्क से शराब की बोतल और खाली गिलास मिले हैं।

स्थायी समिति के चेयरमैन जोगी राम जैन की अध्यक्षता में शुरू हुई बैठक में नेता सदन छैल बिहारी गोस्वामी ने कहा कि कर्मचारियों के वेतन ना मिलने का मसला अभी भी जारी है, साथ ही उन्होंने विज्ञापन विभाग के अधिकारियों को उनकी लापरवाही के लिए आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि उत्तरी निगम का विज्ञापन विभाग उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा है। विभाग अधिकारियों के साथ सख्ती से पेश आने की जरूरत है। सत्ता पक्ष के पार्षद और स्थायी समिति सदस्य विजेंद्र यादव ने कहा कि तीनों निगमों को एक किया जाना चाहिए चाहें चुनाव छह माह की देरी से कराए जाएं। उनकी बात का सत्ता पक्ष के सभी पार्षदों ने समर्थन किया।
पेड़ से लटका मिला किशोर

स्थायी समिति सदस्य पार्षद अंजु जैन ने कहा कि केशवपुरम स्थित जीडी 21 के पार्क में एक किशोर का पेड़ से लटका शव बृहस्पतिवार सुबह मिला है। पार्को में खुले आम शराब पी जा रही हैं और पार्क के सामने ही शराब का ठेका है , दिल्ली सरकार शराब जगह-जगह ठेके खोल कर युवा पीढ़ी को बर्बाद करने पर तुली है। इसके अलावा उन्होंने सड़कों को लेकर आरआर कट की पॉलिसी पर भी नाराजगी जताई। अनेक क्षेत्रों में सड़कें खुदी पड़ी हैं ना तो जल बोर्ड इनकी मरम्मत कर रहा है और ना ही एयरटेल कंपनी।
डीबीसी कर्मचारी धरने पर

आप पार्टी के पार्षद अजय ने डीबीसी कर्मचारियों को स्थायी ना किए जाने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि 11 दिन से कर्मचारी सिविल सेंटर पर धरने पर बैठे हुए हैं। लेकिन उनको स्थायी करने के लिए अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here