Delhi Government: दिल्ली सरकार की पहल: राजधानी के दो अस्प्तालों में कोविड रोगियों के लिए बढ़ाई बिस्तरों की संख्या

0
117

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने अपने दो केंद्रों में कोविड मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या बढ़ा दी है जिनमें से एलएनजेपी अस्पताल में 80 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। लोक नायक जयप्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल कोविड-19 महामारी के खिलाफ सरकार की लड़ाई का मुख्य केंद्र है। 2020 की शुरुआत में यहां महामारी फैलने के बाद यह पहला अस्पताल था जिसे कोविड-19 उपचार केंद्र घोषित किया गया था। शहर के स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,485 नए मामले सामने आए और संक्रमण दर 4.89 प्रतिशत दर्ज की गई। इनए मामलों के साथ ही दिल्ली में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 18,84,560 हो गई तथा महामारी से मरने वालों की संख्या 26,175 है।

Delhi Corona Update: दिल्ली में कोरोना को लेकर मामूली राहत, 24 घंटे में 1076 नए मामले मिले, जानें एक्टिव केसों की संख्या

शहर के स्वास्थ्य विभाग द्वारा 25 अप्रैल को जारी किए गए एक आदेश के अनुसार, एलएनजेपी अस्पताल में कोविड मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या पहले के 250 बिस्तरों से बढ़ाकर अब 450 कर दी गई है, जबकि गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) कोविड रोगियों के लिए बिस्तरों की संख्या पहले के 100 से बढ़ाकर 178 कर दी गई है। वहीं, गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) अस्पताल में बिस्तरों की संख्या में लगभग 300 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। पहले इस अस्पताल में कोविड रोगियों के लिए बिस्तरों की संख्या 100 थी जो अब बढ़ाकर 400 कर दी गई है। अस्पताल में आईसीयू में बिस्तरों की संख्या पहले शून्य थी, लेकिन अब यह 50 कर दी गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा रविवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में कहा गया कि वर्तमान में दिल्ली में कोविड-19 के 154 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं तथा 4,358 लोग अपने घरों में ही पृथक-वास में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here