दिल्ली का आधुनिकीकरण कर इसका चेहरा बदल रही केंद्र सरकार : प्रधानमंत्री मोदी

0
128

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि केंद्र द्वारा किए जा रहे आधुनिक विकास कार्य दिल्ली का चेहरा बदल रहे हैं और राष्ट्रीय राजधानी का आधुनिकीकरण कर रहे हैं। मोदी ने प्रगति मैदान एकीकृत ट्रांजिट कॉरिडोर परियोजना की मुख्य सुरंग और पांच अंडरपास का यहां उद्घाटन करने के बाद ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे, दिल्ली-एनसीआर और दिल्ली-मेरठ राजमार्ग पर मेट्रो मार्गों को दोगुना से अधिक किए जाने समेत कई अन्य पहलों का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने क्षेत्र की समस्याओं को हल करने के लिए कई कदम उठाए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली को केंद्र सरकार से बुनियादी ढांचा संबंधी एक खूबसूरत तोहफा मिला है। उन्होंने कहा कि यह परियोजना 55 लाख लीटर ईंधन बचाने और प्रदूषण को कम करने में मदद करेगी। मोदी ने कहा कि उनकी सरकार बढ़ते शहरीकरण को एक अवसर के रूप में देखती है और लोगों का जीवन आसान बनाने के लिए काम कर रही है। दिल्ली की पहली 1.6 किलोमीटर लंबी सुरंग के उद्घाटन के बाद पूर्वी दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद से इंडिया गेट तथा मध्य दिल्ली के अन्य क्षेत्रों में जाने वाले यात्रियों को आईटीओ, मथुरा रोड और भैरों मार्ग पर यातायात जाम की समस्या से छुटकारा मिलेगा और इस तरह उनके समय, ईंधन और धन की बचत होगी।

मोदी ने कहा, ”समय धन है।” उन्होंने कहा कि यदि सरकार लोगों के लिए 100 रुपये की घोषणा करती है, तो ये सुर्खी बनती है, लेकिन जब 200 रुपये की बचत होती है, तो इस बारे में ज्यादा बात नहीं होती। मोदी ने सुरंग और अंडरपास की शोभा बढ़ाने वाली कलाकृति की भी सराहना की और सुझाव दिया कि इस सुरंग को रविवार को कुछ घंटे यातायात के लिए बंद किया जाना चाहिए ताकि लोग पैदल चलकर इस कला का आनंद ले सकें। उन्होंने कहा कि वह सांसदों से भी ऐसा करने को कहेंगे। पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित इस परियोजना को 920 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाया गया है। इसका उद्देश्य प्रगति मैदान में विकसित किए जा रहे नए विश्वस्तरीय प्रदर्शनी और कन्वेंशन सेंटर तक सुगम पहुंच प्रदान करना है, ताकि प्रगति मैदान में होने वाले कार्यक्रमों में आगंतुकों और प्रदर्शकों की भागीदारी आसान बनाई जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here