भाजपा का बड़ा आरोप, सीएम केजरीवाल पर खिलाड़ियों का करते हैं अपमान

0
120

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बृहस्पतिवार को दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार पर आरोप लगाया कि उसने राष्ट्रमंडल खेलों की पदक विजेता दिव्या काकरान को कथित तौर पर निशाना बनाकर ‘महिलाओं और खिलाड़ियों’ का अपमान किया है। भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कि दिव्या काकरान ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समक्ष कुछ सवाल उठाए तो आप की सोशल मीडिया टीम ने उन्हें निशाना बनाना आरंभ कर दिया जबकि उसके नेता सौरभ भारद्वाज ने तो उनका ”अपमान” करते हुए उनसे प्रमाणपत्र दिखाने की मांग कर डाली।

राष्ट्रमंडल खेल-2022 में कांस्य पदक जीतने वाली पहलवान काकरान ने पिछले दिनों आरोप लगाया था कि राष्ट्रीय राजधानी की निवासी होने और कई अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाएं जीतने के बावजूद उन्हें दिल्ली सरकार की तरफ से कभी कोई मदद नहीं मिली। पूनावाला ने पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि काकरान ने उसके बाद दिल्ली का प्रतिनिधित्व करने का प्रमाणपत्र भी दिया। भाजपा प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि जिन खिलाड़ियों ने तिरंगे के सम्मान के लिए अपना जी जान लगाने का काम किया, उनको प्रांतों में बांटकर आप अपमानित करने का दुस्साहस करती है। काकरान ने शुक्रवार को महिलाओं के 68 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग में कांस्य पदक जीता था। उन्हें बधाई देने वालों में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल थे। लेकिन, रविवार को काकरान ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए कहा कि सरकार ने कभी उनकी मदद नहीं की।
उन्होंने केजरीवाल से भारद्वाज को सभी पदों से हटाने की मांग की।

पूनावाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ”रेवड़ी संस्कृति” की लगातार आलोचना किए जाने पर केजरीवाल के पलटवार का जवाब देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने अपनी आलोचना में किसी नेता या राजनीतिक दल का नाम नहीं लिया है लेकिन मुख्यमंत्री खुद ही अपना बचाव करने सामने आ गए, जैसे उन्हें अपनी गलती को एहसास हो रहा हो। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार समाज के विभिन्न वर्गों को अलग-अलग योजनाओं के माध्यम से सशक्त करने कर उनके कल्याण का काम कर रही है वहीं, कुछ राजनीतिक दल चुनाव से पहले ”रेवड़ियों” का प्रस्ताव देने में व्यस्त हैं, वह भी बगैर इस चिंता के कि उनका क्रियान्वयन संभव है कि नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here