Delhi latest news: केजरीवाल सरकार की बड़ी घोषणा, जानें दिल्ली में पेड़ लगाने को लेकर क्या है प्लान, कब से शुरू होगा महाअभियान

0
152

delhi today news in hindi: नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में सरकार इस वित्त वर्ष में पैंतीस लाख से ज्यादा पेड़ लगाएगी। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने 19 विभागों के अधिकारियों के साथ हुई संयुक्त बैठक के बाद इसकी घोषणा की। उन्होंने वृक्षारोपण के महाअभियान में शामिल होने की इच्छा रखने वालों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी की। पर्यावरण मंत्री ने बताया कि वित्त वर्ष 2022-23 में दिल्ली भर में 35 लाख 38 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। सचिवालय में हुई बैठक में वन विभाग, निगम, रेलवे, दिल्ली मेट्रो, सीपीडब्लूडी, डीएसआईआईडीसी बीएसईएस, एनडीपीएल समेत 19 विभागों के अधिकारी शामिल रहे।

सीएम केजरीवाल ने बुजुर्गों को दी ओल्ड एज होम की सौगात; भोजन और कपड़े से लेकर जानें क्या-क्या मिलेंगी सुविधाएं

बैठक में तय किया गया है कि जुलाई में शुरू होने वाले वृक्षारोपण के महाअभियान में कुल 29 लाख पौधे लगाए जाएंगे। जबकि, सात पौदों का मुफ्त वितरण किया जाएगा। वृक्षारोपण अभियान के तहत मई और जून के महीने में मिट्टी को तैयार करने, गड्ढे खोदने, पौधों की सैपलिंग तैयार करने, मिट्टी की खाद डालने आदि का काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार के प्रयासों से दिल्ली के हरित क्षेत्र में इजाफा हुआ है। दिल्ली में वर्ष 2013 में हरित क्षेत्र 20 फीसद था लेकिन केजरीवाल सरकार के प्रयासों में वर्ष 2021 में यह बढ़कर 23.06 फीसदी हो गया। इसके साथ ही शहरों में प्रति व्यक्ति वन आच्छादन के मामले में दिल्ली पूरे देश में पहले स्थान पर है।

इस क्षेत्र में दिल्ली के छह लाख युवाओं को रोजगार देने की तैयारी में केजरीवाल सरकार, जानें पूरा प्लान

वृक्षारोपण पर ग्रीन हेल्पलाइन जारी

पर्यावरण मंत्री ने कहा कि इस अभियान में दिल्ली के लोगों, आरडब्लूए, गैर सरकारी संगठन व अन्य सामाजिक संगठनों को शामिल किया जाएगा। इसको ध्यान में रखते हुए 1800118600 जारी किया गया है। इस पर फोन करके अपने आसपास होने वाले वृक्षारोपण अभियान की जानकारी ली जा सकती है और उसमें शामिल हुआ जा सकेगा।

युवाओं को कैसे मिलेंगी 20 लाख नौकरियां? केजरीवाल सरकार ने पांच साल का पेश का डाटा

सभी विभागों को थर्ड पार्टी ऑडिट कराने के निर्देश

पर्यावरण मंत्री ने बताया कि दिल्ली में पिछले वर्ष लगाए गए पौधों के जीवित रहने की दर की जांच करने के लिए सभी विभागों को थर्ड पार्टी ऑडिट कराने के निर्देश दिए गए हैं। आगे से पौधारोपण संबंधित थर्ड पार्टी ऑडिट महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ कंबेटिंग क्लाईमेट चेंज (एमजीआईसीसीसी) से कराए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here