Delhi sarkar decision: पूरे दिल्ली वालों को 19 नए स्कूलों का तोहफा देगी केजरीवाल सरकार

0
158

delhi Aaj ki khabar in hindi: नई दिल्ली। दिल्ली के सार्वजनिक शिक्षा क्षेत्र में अगले एक साल में 19 नए स्कूलों का नाम जुड़ने जा रहा है। दिल्ली सरकार आने वाले एक साल में 19 नए स्कूल शुरु करेगी। जिसमें से 11 स्कूल ऑफ स्पेशलाइज्ड एक्सीलेंस (एसओएसई) होंगे। दिल्ली सरकार के लोक निर्माण विभाग PWD) ने कई जगह टेंडर आमंत्रित और कई जगह टेंडर जारी कर दिए हैं। हाल ही में संपन्न हुए दिल्ली विधानसभा के बजट सत्र में एक सवाल के जवाब में दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish sisodia)ने यह जानकारी दी है। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली को चालू वित्त वर्ष के अंत तक शहर भर में 19 और स्कूल मिलने जा रहे हैं। इनमें से कुछ संस्थानों पर काम शुरू हो चुका है। 19 में से 11 स्कूल ऑफ स्पेशलाइज्ड एक्सीलेंस, दो लड़कियों के स्कूल, एक सरकारी लड़कों के सीनियर सेकेंडरी स्कूल और दो सर्वोदय को-एड और मिडिल स्कूल होंगे।

इस क्षेत्र में दिल्ली के छह लाख युवाओं को रोजगार देने की तैयारी में केजरीवाल सरकार, जानें पूरा प्लान

कई स्कूलों में निर्माण कार्य शुरू

अधिकारियों के मुताबिक इनमें से कई स्कूलों में निर्माण कार्य शुरू हो गया है। लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) इस परियोजना को अंजाम दे रहा है। अधिकारी ने बताया कि दिल्ली के मोलड़बंद और गड्डा कॉलोनी क्षेत्र में दो नए स्कूलों-सर्वोदय कन्या विद्यालय नंबर-2 और सर्वोदय मिडिल स्कूल का निर्माण पूरा होने वाला है। इसे आगामी शैक्षणिक सत्र में प्रवेश के लिए खोले जाने की उम्मीद है। स्कूल निर्माण के लिए कंसल्टेंट को नियुक्त करने के लिए निविदाएं आमंत्रित की गई हैं।

27 साल में भाजपा ने क्या किया? सोमवार को देखने जाउंगा गुजरात : सिसोदिया

स्कूलों में मिलेंगी ये सुविधाएं

स्कूलों में ग्रीन बिल्डिंग, स्मार्ट क्लासरूम, स्टाफ रूम, एक ऑडियो-विजुअल रूम, एक खेल का मैदान, टैरेस गार्डन, पीने के पानी की आपूर्ति और भूनिर्माण और बागवानी के साथ विश्व स्तरीय सुविधाएं होंगी। अधिकारी ने कहा कि स्कूलों में एक उचित सीवरेज सिस्टम, पेयजल आपूर्ति, पार्किंग सुविधा, सेवा क्षेत्र, भूमिगत टैंक, सेप्टिक टैंक, सीवेज उपचार संयंत्र, वर्षा जल संचयन और एक पंप हाउस के साथ तीन मंजिल होंगे। इमारतों में विकलांग बच्चों के लिए विशिष्ट सुविधाएं भी होंगी और परिसर में पैदल चलने वालों के नेटवर्क पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि एक परिभाषित वाहन नेटवर्क और पार्किंग सुविधाओं के माध्यम से सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के साथ इसकी अच्छी कनेक्टिविटी भी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here